Header Ads Widget

दुनिया के तीन महामारी और कोरोना । dhunia ke tin mahamari aur corona

दुनिया के तीन  महामारी और कोरोना । dhunia ke tin mahamari aur corona 

आखिर क्यूँ आती है हार 100 साल मे महामारी। कोरोना महामारी ही पहली महामारी नही है। इससे पहले भी तीन महामारी आ चुका है। जिसके बारे मे शायद आपको मालूम नही होगा। तो आज हम उसी महामारिओ के ही बात करेंगे। दोस्तों आजके दिन मे बिज्ञान ने बहत तरक्की करली है। मेडिकल साइंस ने कोई उचाई को छु लिया पर आज के दिन मे कोरोना के लिए हम कोई दावा नही बना पाए है।

 

dhunia ke tin mahamari aur corona
corona

आज से पहले भी ऐसे महामारी ने लाखों लोगों की जान ली है। सबसे खाज बात तो ये है की 20 का अकरा। आज मे आपको बताओंगा की क्या है ये 20 का अकरा।

Annabele doll ki rahasya

kya sach main bhoot hote hai

दोस्तों आज हम बहत कठिन वक्त से गुजर रहे है। corona ने धुनिया भर मे कहर मचा के रखा है। हर कोई इस कोरोना से डर रहा है। पर हम और आप इस कोरोना वायरस को पहली  बार देख रहे है, लेकिन ऐसे कोरोना जैसी महामारी पहली भी 3 बार आ चुका है। क्यूँ की दोस्तों ऐसे महामारी हर 100 साल बाद आई है। ओर लाखों कोडोरों लोगों की जान ले गई है। इन सब बातों मे एक चीज कॉमन है वो है 20 की अकरा। 1720, 1820,1920, 2020, ये वो साल है जो धरती पर अलग अलग महामारी आयी है। आइए जानते है की कोन कोन सी थी वो महामारी।

 दुनिया के तीन  महामारी और कोरोना । dhunia ke tin mahamari aur corona 

1720 प्लेग

सबसे पहले जानते है 1720 की महामारी जिससे हम प्लेग के नाम से जानते है। इस महामारी को उस समय प्लेग ऑफ मरशाली कहा गया। मारशाली फ़्रांस का एक शहर है जाहा से इस महामारी की सुरुवात हुई थी। लेकिन भारत मे ये बीमारी चीन से आई थी। पहले चीन के कुछ ही जगह पर फैली थी पर धीरे धीरे ये अनन्य जगह पर भी फेलना सुरू हो गया। पर उस समय दुनिया की आबादी काम थी फिर भी प्लेग बीमारी ने 1 लाख लोगों की जान ली थी। जिसमे 50 हजार लोग बीमारी फेलेने के कुछ ही समय मे ही मर गए थे। बाकी के लोग 2 साल के अंदर मरे थे।

1820 कोलेरा

प्लेग के ठीक 100 साल बाद यानि 1820 मे कोलेरा नाम की बीमारी ने लोगों अपने जपेट मे ले लिया था। इस महामारी ने सब से ज्यादा एशिया के देशों मे सब से ज्यादा प्रभाव किया था। दोस्तों इस बीमारी भी वायरस के कारण  से ही फैली थी। इस वायरस मे लोगों को उलटी दस्त जैसी समस्या हो रही थी। जिसकी कारण इंसान  के शरीर मे पानी की मात्रा काम होता जा रहा था। और शरीर मे पानी की काम होने की कारण लोग मरने लगे थे। जावा देश करीब 1 लाख लोगों की मृत्यु हुई  थी।

 दुनिया के तीन  महामारी और कोरोना । dhunia ke tin mahamari aur corona 

qutub minar history in hindi

Sabse majedar facts in hindi


1920 स्पैनिश फ्लू

प्लेग और कोलेरा महामारी के 100 साल बाद 1920 मे स्पैनिश फ्लू ने अपना रंग दिखाना सुरू कर दिया था। हालाकी की इसकी लक्षण वर्ल्ड वर खतम होने से पहले ही दिख रही थी। पर वर्ल्ड वर खतम होने बाद 1920 मे ज्यादा सक्रीओ हुई। वॉलर्ड वर के दौरान पछीमी आर्मी कैम्प से सुरू हुई। वर खत्म हुआ तो सभी सैनीक अपने घर लौट ने लगे। और साथ मे स्पैनिश फ्लू ने भी धुनिया भर मे फैलना सुरू हो गया। और मानब इतिहास मे सबसे विशन महामारिओ मे से एक थी। वॉलर्ड वर मे जीतने लोग मारे गए थे उससे दुगने लोग इस Spanish flu के महामारी मे मरे थे।  अगर आकरो की बात की जाए तो करीब 5 करोड़ लोगों की मृत्यु हुई थी।

 दुनिया के तीन  महामारी और कोरोना । dhunia ke tin mahamari aur corona 

2020 corona

दोस्तों अबतक हमने जीतने भी महामारी के बारे मे बताया वो सब पुराने समय की थी। उस समय मेडिकल साइंस ने भी उतनी तरक्की नही की थी। पर आज हम प्रगति के उचाई पर है फिर भी हम अपने घर पर रहने के लिए मजबूर है। जिसकी बजह है कोरोना यानि covid-19 की महामारी। जो अबतक करोड़ों लोगों को अपने जपेट मे ले चुकी है। और न जाने ये अकरा और कितना बड़ेगा। कोरोना के इस कहर को देख कर ऐसे लगता है की कूदरत जब चाहे अपना पासा पलट सकते है। खुशी की बात ये है की मेडिकल साइंस ने covid वैक्सीन बना लिए । इसीलिए हर लोगों से बिनती है सरकार ने दिए गए नियोमो को पालन करे और घर मे रहे।

 तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही । सबधान रहिए और सुरक्षित रहिए।


Post a Comment

0 Comments