Subscribe Us

क्या सच मे भूत होते है । Paranormal Analysis

 kya bhoot sach me hote hai । Paranormal Analysis

नमस्कार दोस्तों

     आप  ने  तो भूत प्रेत की कहानी तो सुनी ही  होगी । क्या भूत - प्रेत सच मैं होते है या सिर कहानी  है। जब आप कही जा रहे हो तो क्या आपको लगता है की कोई आप के पीछा  कर रहा हो। क्या आप को लगते है की कोई आप को ऑबजरब कर रहा हो? आज आपको स्किनटिफ़िकली बताने जा रहा हु  की सच मे  भूत होते है या नही। भूत प्रेत सच मे  है या फिर हमारे दिमाग का सिर्फ सोच है।

     आइए जानते है पेरनॉर्मल इनवीसतिगतोर क्या मानते है। उसके बाद जानेंगे  स्किनटिस्ट क्या  मानते है। जो लोग भूत  प्रेतों को मानते है वो लोग भी समज पाएंगे ओर जो लोग  प्रेत को नही मानते वो लोग भी समज पाएंगे।

      पहले बात करते है जो पैरनोर्मल चीजों  को मानते है यानि की भूत-प्रेतों को मानते है,यानि की पेरनॉर्मल इन्वेस्टगैटर।

उन लोगों की माने तो भूत क्या होती है?भूत मतलब  मरे हुए इंसान की वो energy जो fisical बॉडी को चोरने के बाद भी इस धरती पर रहते है।  ओर वो अपना होने का सबूत परछाई की तरह देते है या किसी अजीब तरीकों से देते है या तो फिर किसी शब की आकार मे  दिखाई देते है। जो लोग भूत को मानते है वो लोग मानते है की जो इंसान की मनोकामना पूरी नही होतो वो लोग ही भूत बन जाते है। ओर वो तबटक भूत बनके  रहते है जबटक उसकी अधूरी icha पूरी नही होतो है। वो वही जगह पर दिखाई देते है जहा ओसकी यादें जूरी रहती है। जैसे घर , या कोई खाज  जगह। कभी कभी तो किसी इंसान के अंदर घुस जाता है। ऐसी घटना आजकल हजारों मे नही बल्कि लाखों मे हो रहा  है। ओर ये भी सुन ने मे आता है की भूत  ने किसिको अपने बश मे कर लिया है।

                                                        

kya bhoot sach me hote hai
                                          kya bhoot sach me hote hai

           kya sach mein bhoot hote hain

      हॉलिवुड, बॉलीवुड मे भी भूत के ऊपर बहत  सी फिल्म बनाई गई है। हॉलीवूड मूवी THE EXORCIST जो 1973 मे बनाई गई थी। THE CONJURING जो 2013 मे बनाई गई थी। अगर आप हॉरर मूवी के शोकिन है तो ये दोनों फिल्म जरोर देखे। THE CONJURING फिल्म जो है वो सच्ची घटना पर आधारित है। इस मूवी के हिसाब से आत्मा किसी के शरीर मे जा सकता है। किसी भी चीज के अंदर भी जा सकते है। पैरनोर्मल इन्वेस्टगैटर का कहना है की आत्मा सिर्फ इंसान के अंदर ही नही बल्कि किसी बस्तु के अंदर जा सकता है। THE CONJURING मूवी के अंदर तो आपने एननबेले नाम के तो डॉल को तो अपने देखा ही होगा। मूवी मे जो  पुतले है वो बहत डरावनी दिखाया गए।  पर असल मे वो इतना दरवानी नही है नॉर्मल गुरिया की तरह ही दिखता है। और आज भी ये पुतला एक बॉक्स के अंदर बंद है। ये गुरिया धुनिया का का सबसे सपित चीजों मे से एक माना  जाता है।

      भूतों को लेकर और एक मान्यता है की कोई आत्मा अगर आपसे बात करना चाहे तो आपके सामने आकर बात कर सकते है।

        पेरनॉर्मल के इन्वेस्टगैटर के हिसाब से भूत प्रेतों का टाइम का ज्ञान नही होते है। आप ने तो सुना ही होगा भूत - प्रेत की घटना हमेशा रात को ही होता है। ये हमेशा रात मे हीक्यूँ आते है? आप ये मत सोचिए की किसी फिल्म की तरह  भूत रात को आते है। पैरनोर्मल इन्वेस्टगैटर के हिसाब से रात के समय ज्यादा शांति रहती है ओर एलेक्टयो मेग्नेटिक ditrabance कम  होती है। इन्वेस्टगैटर की हिसाब से भूतों को अपना प्रेजेंट को बरकरार रख ने के  लिए ऊर्जा की जरोरत होती है। दिन के टाइम distabances बहत  ज्यादा होती है। रात को काम होती है इसलिए हमेशा  रात को ही दिखाई देते है।

       कुछ लोगों का मानना ही आइन्स्टाइन ने भूत का एक्सपेलिटीऑन तब दिया था जब उन्हने  कहा था “The Energy Never Dsappears From The Univers.”इसका मतलब है ऊर्जा इस bhrahmand से कही नही जाता। इससे ये पता चलता है की मरने बाद  इंसान की आत्मा इस धरती मे ही रहे जाती है। बिज्ञान ओर थर्मोडाइनामिक रूल भी ये ही कहती है की ऊर्जा न कभी बनाया जा सकता है नहीं कभी मिटाया जा सकता है।

  

                                               

kya bhoot sach me hote hai
kya sach me bhoot hote hai

 

     ऊर्जा सिर्फ एक फोरम है जो दूसरे फ़ोरम मे बदल सकती है। अगर कोई मरता है तो फिसिकली मरता है। उसकी  बॉडी एक फोरम से बदल जाती है। ये सिर्फ अपना रूप बदलता है। अगर किसी बॉडी को जंगल मे दफनाए जाये तो बॉडी कॉमपोस होके मिट्टी मे  मिल जाएगी। ओर बाद मे वही  जगह पर पेर उगेंगे। ओर उसी पेर janbar  खाएंगे ओर उसे एनर्जी  मिलेगी। कहने  का मतलब है की आपकी बॉडी इस धरती को चोर के कही नही जाती यही इस धरती पढ़ रहती है।  बड़ी की बात तो हो गई, अगर आत्मा की बात करे तो आत्मा कहा जाती है? क्या  आप जानते है की एनेगी कभी नष्ट नही होता। आत्मा भी कभी न्यस्त नही होता है। अगर ये बात सही है तो आत्मा कभी मर  नही हो सकती है। सिर्फ बॉडी डिकॉमपोस होके धरती पे मिल जाती है। पर जो आत्मा है वो जिंदा  रहती है, पर ये एक theory  है इसका कोई प्रूव नही है।

       क्या आपने कभी NEARDEATH EXPIRIENCE के बारे मे सुना  है। NEAR DEATH EXPIRIENCE इंसान के जीवन की सबसे महत्वपुन एक्सपेरिमेंट  मे से एक है। इस धुनिया मे कोई लोगों का दावा है की मरके भी इनस्सन जिंदा  हुए है, खासकर भारत मे तो ये  हजारों मे ऐसी घटना है।

       उनकी  हिसाब से मरने के बात इन्हे अजीब तरह के लाइट दिखाई देते है ओर somehow ये वापस अपने शरीर मे आ  जाते है। ये बिल्कुल  मरके वापिस आना जैसी है। इसको हम NEAR DEATH EXPIRIENCE कहते है। कोई लोग तो इस NEAR DEATH EXPIRIENCE मे ऐन्जल यानि परिओ को देखने की दावा करते है।

       Duncan macduggal नाम के एक साइअन्टिस्ट ने कमाल का इक्स्पीरीअन्स किया था। उन्होंने  एक मारिस  को मरने से पहले ओसकी वजन को नापा ओर मरने के बात फिर वजन को नापा। जॉब रिजल्ट को देखा तो जिंदा और मरने केबाद वजन मे 21 ग्राम काम पाया।

       मरने के बाद इंसान के शरीर 21 ग्राम काम हो जाती है। इसका मतलब शरीर का आत्मा का वजन 21 ग्राम है, पर लोगों को ये THEURY पसंद नही आई। मरने के बाद शरीर के कोई मेटा बयालीस के चलते शरीर का वजन कॉम होता होगा। जब ओर कोई इंसान के साथ ये इक्स्पीरीअन्स करके देखा रेसूत 21 ग्राम काम आया। इस इक्स्पीरीअन्स को 21 ग्राम के नाम से प्रचारित ही गया। इस theury  मे कुछ तो सच्चाई है की मरने बाद मे कुछ तो शरीर से चल जाता है।

        अब बात करते बिज्ञान की वो लोग जो भूत प्रेतों को नही मानते है उनलोगों का क्या कहना है। उनलोगों  का कहना है मरेने से पहले इंसान के ब्राइन के अंदर जो ऐक्टिविटी रहती है ओसकी फरेकुन्की ज्यादा होने लगती है। ओसकी चलते लोगों को भ्रम होते है। उनको लगता है लाइट को देख लिया इसको NEAR DEATH EXPIRIENCE कहते है। ये सच है झुट कोई नही जनता।

        अब बात करते है feelings की जो आपको लगते है की आपको कोई देख रहा है। कभी कभी आपको लगता होगा की आपकी कोई पिच कर रहा हो या कोई आपको objarb  कर रहा हो।

        Hunted house की बात करे तो ऐसा क्यूँ लगता है की घरों मे ऐसा अजीबो गरीब senses क्यूँ होने लगता है?

        पैरनोर्मल investigatore  की माने तो अगर कोई इंसान बहत बुरी emosonel expience  के साथ मरता है तो उसकी आत्मा घर के चीजों जैसे wall , सिरिओ, मे objarb हो जाते है। इसलिए अगर आप किसी hunted जगह पर जाएंगे तो आपको अजीब लगेगा। एक अजीब सी feel होगी। ऐसा लगेगा की आप ऑस आत्मा की दर्द को महसूस कर रहे हो।

        इस धुनिया मे लाखों लोगों ने भूत को देखने का दावा किया है। आप जो internet पर जो भूत की फोटो को देखते हो वो ज्यादातर fake होते है। पर हम orijo जो एक टूल है जो पैरनोर्मल चीजों से बात की जाती है। आप चाहे तो आप ऐसी बोर्ड खरीद सकते हो। और आत्माओ से सवाल पुच सकते हो। पर मे आपको ये recommend नही कारोन्गा । क्यू के ये बहत खतरनाक हो सकता है। इससे आपकी जान भी जा सकते है।

                         also read- hota kta hai globale warming

 

        तो consolation ये निकलती है अगर आप science  की बात माने तो अतमाये होती है पर साइंस के एक्सपेनटीऑन ग्रुप ने ये एक्सपीनटीऑन को नही मानते,इनके हिसाब से ये दिमाग का भ्रम है। 

        पैरनोर्मल इन्वेस्टगैटर ये सच मानते है, इसकी चलते इस धुनिया मे ऐसी पज़िशन घटना होती है, जिसमे आतमाये किसी इंसान के अंदर चली जाती है। मे तो ये मानता हो की energy कभी मर नही सकता वो किसी न किसी फ़ौम मी है।

         आपको क्या लगता है की सच मे भूत होते है या नेही कमेन्ट करके जरोर बताइए ।

Post a comment

1 Comments