Subscribe Us

गोवा के अनसुनी कहानी। Goa ke ansuni kahani


गोवा के अनसुनी कहानी। Goa ke ansuni kahani hindi jankari


गोवा के अनसुनी कहानी

गोवा के अनसुनी कहानी। Goa ke ansuni kahani

गोवा हमारे भारत का सबसे खूबसूरत और सुंदर राज्यो में से एक है।hindi jankar. 1961 तक गोवा भारत का हिस्सा नहीं था ।आइए आज हम जानते है गोवा कब भारत का हिस्सा बना,गोवा का इतिहास, गोवा की और कुछ रोचक बाते।
महाराष्ट्र राज्य के दक्षिण में स्थित भारत का सबसे छोटा राज्य है गोवा। गोवा पूरी दुनिया में अपने सुंदर समुद्री किनारों के लिए प्रसिद्ध है।भारत के एक छोटा राज्य होने के बावजूद भी इसका अपना एक इतिहास है जिसके बारे में आज पता चलेगा।
गोवा का इतिहास, भुगोल, संस्कृति,धर्म,आदि से जुड़े ज्ञानवर्धक तथ्य।
BASIC FACTS ABOUT GOA IN HINDI
आइए जानते है:
राजधानी - पणजी
आधिकारिक भाषा - कोकणी,मराठी
क्षेत्रफल - 3,702, km square
जनसंख्या -14,57,723
शक्षरता - 88.70 प्रतिशत
जिले - 2
विधानसभा सीटें - 40
लोकसभा सीटें - 2
राज्यसभा सीटें - 1
स्थापना - 30 मई 1987
पहले मुख्यमंत्री - दयानंद भंडारकर
पहले राजपाल - गोपाल सिंह


गोवा के अनसुनी कहानी। Goa ke ansuni kahani



DEMOGRAPHIC FACTS OF GOA IN HINDI
गोवा की जनसंख्या जुड़े रोचक जानकारी

छोटा राज्य होने के कारण इसकी जनसंख्या भी कम है।करीब 15 लाख।
गोवा में लगभग 61 प्रतिशत लोग कोकणी भाषा बोलते हैं, 19 प्रतिशत लोग मराठी भाषा बोलते है,7प्रतिशत कन्नर,5 प्रतिशत हिंदी,4 प्रतिशत उर्दू और अन्य भाषा बोलते हैं।
पुर्तगाली ने गोवा में लंबे समय तक शासन की है।इन्होंने ईसाई धर्म का प्रचार किया जिसकी कारण यहां 27 प्रतिसत आबादी ईसाई है।66 प्रत्सत हिन्दू,9 प्रतिशत मुसलमान और बाकी अन्य धर्म को मानते है।
सन 1851 मै 65 प्रतिसत जनसंख्या ईसाई हो करती थी,पर  कई ईसाई यूरोप, अमेरिका चले जाने से यहां ईसाई के जनसंख्या कम हो गए।

FACTS ABOUT GOA HISTORY IN HINDI
गोवा के इतिहास से जुड़े जानकारी

गोवा का प्रथम वर्णन रामायण मै मिलता है। पौराणिक लेखो के अनुसार सरस्वती नदी सुख जाने के कारण सोक किनारे बसे हुए ब्राह्मणों को दुबारा बसने के लिए परशुराम ऋषि ने समंदर में शर संदन किया। ऋषि का सम्मान करते हुए समंदर ने इस स्थान को अपने क्षेत्र से मुक्त कर दिया। ये पूरा स्थान कोंकण कहेलाया और इसका दक्षिण भाग गुप्पुरी केहेलाया जो आज वर्तमान गोवा ना से जाना जाता है।
भारत के अन्य हिस्सों की तरह ही तीसरी सदी ईसापूर्व गोवा मोर्य साम्राज्य का हिस्सा था।
पहले सदी के शुरुआत में इस पर कोल्हापुर के सातवाहन बंश के शसोको का अधिकार रहा और फिर बादामी चालुक्य शासोकों ने इस पर 580 से 750 तक राज किया।
सन 1312 गा में पहेली बार दिल्ली सल्तनत के अधीन हुआ लेकिन इन्हे विजयनगर के शासक हरहर  प्रथम दारा वह से खेदर दिया गया।
लगभग 100 साल तक बियाजनगर समराज्यो ने गोवा पर राज किया।इसके बाद 1469 को गुबार्ग के बहामी सुल्तान ने इसे फिर से दिल्ली सल्तनत का हिस्सा बनाया।
सन 1483-84 में गोवा मुस्लिम शासिको युसुफ आदिल खान के अधिकार मै आया।

गोवा के अनसुनी कहानी। Goa ke ansuni kahani



सन 1510 पर्तागली अल्फाजों दा अब्लबार्क ने यह आक्रमण किया और अधिकार कर लिया।अब्लबाक और आदिल खान के बीच भयानक युद्ध हुआ था जिसमें पुर्तगालियों ने इसे हरा दिया।गोवा में इन्होंने सभी मुसलमानों को कत्लकर दिया।
इसके बाद 1961 तक गोवा मै पुर्तगालियों का राज रहा।वो अंग्रेजो के अधीन पर यहां पर शासन करते थे।
आजादी के बाद भारत ने मांग की कि गोवा भारत को सौंप दिया जाए,पर पर्तुगल इसके लिए राजी नहीं था।अंत में दिसंबर 1961 में एक सैनिक अभियान चलाया गया और गोवा को भारत मै शामिल किया गया।
30 मई 1987 तक गोवा एक केंद्रीय शासित प्रदेश था,इसके बाद इसे राज्य का दर्जा दिया गया।
30 मई, 1987 तक गोवा एक केंद्र शासित प्रदेश था, इसके बाद इसे राज्य का दर्जा दे दिया गया।

GEOGRAPHIC FACTS ABOUT GOA IN HINDI
गोवा राज्य से जुड़े भुगौलिक तथ्य

महज 3702 बर्गकिलोमीटर के क्षेत्रफल के साथ गोवा भारत का सबसे छोटा राज्य है।
यह को बड़े लगभग 40 समुद्री तट है। इनमें से कुछ समुद्र तट अंतरराष्ट्रीय स्तर के है। दो समुद्र तट तो ऐसे है जहा भारतीय को जाना माना है।
गोवा के सीमा सिर्फ दो राज्य  से लगती है - महाराष्ट्र और कर्नाटक।
गोवा के दुधसागर झरना भारत के सबसे ऊंचे पाने के झरने में से एक है ।एक कि उचई 310एम मीटर है ।
आशा करता हो की आपलोगो ओ ये जानकारी पसंद ई होगी।

Post a comment

0 Comments